Type to search

श्रद्धा हत्याकांड : आफताब पर हमले की आशंका, बढ़ाई गई सुरक्षा

देश

श्रद्धा हत्याकांड : आफताब पर हमले की आशंका, बढ़ाई गई सुरक्षा

Share
Shraddha murder

दिल्ली में श्रद्धा हत्याकांड के आरोपी आफताब अमीन पूनावाला पर जानलेवा हमला हो सकता है. यह हमला उसे कोर्ट में पेश करने के लिए ले जाते समय संभव है. इस आशंका को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने साकेत कोर्ट में आफताब की वर्चुअल पेशी की अर्जी लगाई है. इसके समर्थन में पुलिस ने इंटेलिजेंस के इनपुट का हवाला दिया है. इस इनपुट में कहा गया है कि आफताब के खिलाफ लोगों में बहुत गुस्सा है. दिल्ली और महाराष्ट्र में उसके खिलाफ प्रदर्शन शुरू हो गए हैं. ऐसे में बहुत संभव है कि कोर्ट में पेशी के लिए ले जाते समय उसके ऊपर भीड़ का हमला हो जाए. कोर्ट ने पुलिस की अर्जी पर सहमति देते हुए उसके वर्चुअल पेशी को मंजूरी दी है.

बता दें कि साकेत कोर्ट में पेशी के वक्त गुरुवार को ही भीड़ ने खूब नारेबाजी की थी. उसके खिलाफ फांसी की मांग करते हुए लोगों ने मार्च निकाला था. इसी प्रकार विभिन्न संस्थाओं ने इस घटना के विरोध में मोर्चा खोल दिया है. इनमें कुछ कट्टरपंथी संस्थाएं भी शामिल हैं. पुलिस आरोपी की रिमांड अवधि बढ़वाने के लिए कोर्ट पहुंची थी. जब कोर्ट ने आरोपी की रिमांड बढ़ाने की अनुमति दे दी तो पुलिस ने दूसरी अर्जी दाखिल करते हुए उसके वर्चुअल पेशी की अर्जी दी. कहा कि रिमांड अवधि में आरोपी को मेडिकल के लिए कोर्ट ले जाना होता है, इसके अलावा निशानदेही के लिए भी अलग अलग स्थानों पर ले जाना होता है. ऐसे में उसे विशेष सुरक्षा की जरूरत है. कोर्ट ने पुलिस इस अर्जी को भी मंजूर कर लिया है.

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक इंटेलिजेंस के इनपुट के आधार पर आरोपी आफताब पूनावाला के चारो ओर सुरक्षा घेरा कड़ा कर दिया गया है. पुलिस ने सबसे पहले उसकी कस्टडी को गोपनीय कर दिया है. इसमें आफताब को कहां रखा गया है, इसकी जानकारी कुछ चुनिंदा पुलिस वालों को ही है. यह पुलिस वाले भी वह हैं जो सीधे तौर पर उससे पूछताछ या मामले की जांच से जुड़े हैं. पुलिस ने बताया कि सुरक्षा की दृष्टि से रोज आरोपी का स्थान भी बदल जा रहा है.

पुलिस ने बताया कि श्रद्धा मर्डर केस में आफताब पूनावाला को 12 नवंबर को गिरफ्तार किया गया था. उसके खिलाफ अपनी लिव इन पार्टनर श्रद्धा वाकर की गला दबाकर हत्या करने और फिर शव के 35 टुकड़े कर छतरपुर के जंगल में फेंकने का आरोप है. इसके अलावा आरोपी के खिलाफ सबूत मिटाने के भी आरोप हैं. बता दें कि आफताब ने 18 मई को अपनी लिव इन पार्टनर श्रद्धा की हत्या कर दी थी. उसने 19 मई को उसके शव के टुकड़े कर फ्रीज में रख दिए थे, वहीं अगले दो महीने में एक एक कर इन टुकड़ों को पास के जंगल में ठिकाने लगा दिया था.

Shraddha murder: Fear of attack on Aftab, increased security

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *