Type to search

Delhi में फिर दो गुटों में हुई पत्थरबाजी, भारी तनाव, 3 गिरफ्तार, 37 लोग हिरासत में

जरुर पढ़ें देश

Delhi में फिर दो गुटों में हुई पत्थरबाजी, भारी तनाव, 3 गिरफ्तार, 37 लोग हिरासत में

Share

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के वेलकम इलाके में दो बच्चों के झगड़े के बाद दो समुदाय में भिड़ंत हो गई. इसके बाद हुई पत्थरबाजी की वजह से भारी तनाव पैदा हो गया है. यह पूरा वाकया बुधवार की देर रात का है. मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने सख्ती बरती और अब तक 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जबकि 37 लोग हिरासत में हैं. मौके पर भारी संख्या में पुलिसबलों की तैनाती की गई है.

नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के डीसीपी संजय कुमार ने समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए बताया कि बीती रात करीब 9.50 बजे पीएस वेलकम क्षेत्र में फोटो चौक के पास दो समुदायों के लोगों के बीच झगड़े को लेकर पीसीआर कॉल आई. सूचना मिलने पर घटना स्थल पर तुरंत पुलिस की टीम पहुंची. इसके साथ ही, फोर्स को भी तैनात किया गया. शुरुआती जांच में पता चला कि वेलकम इलाके के एक्स एंड वाई ब्लॉक के पार्क में खेलने वाले बच्चों के बीच झगड़ा हो गया था. इसके कारण दो समुदायों के बीच हाथापाई हुई. साम्प्रदायिक तनाव की आशंका जताते हुए कुछ लोगों ने पुलिस को ख़बर की, जिसके बाद पुलिस हरकत में आयी और इलाके में भारी बल तैनात किया गया.

डीसीपी ने आगे बताया कि 37 लोगों को हिरासत में लिया गया है और कुछ की तलाश जारी है. वहीं अब तक 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. मामले में IPC के तहत कार्रवाई की जा रही है और 108 CRPC के तहत पांबद भी किया गया है. उनके मुताबिक, फिलहाल स्थिति पूरी तरह काबू में है. दंगा की धाराओं के तहत सख्त कानूनी कार्रवाई शुरू की जा रही है. नागरिक भाईचारा समिति के सदस्यों को दोषी व्यक्तियों की पहचान करने में सहायता के लिए शामिल किया गया है.

हिरासत में लिए जो लोग शामिल हैं उनमें कुछ के नाम ये सामने आये हैं. वाल्मीकि समाज के चंद्र भान, संजय (पूर्वी दिल्ली नगर निगम में स्वच्छता कर्मचारी है), अकील, उबैद, जाकिर, आकिर (जाकिर और आकिर (बाप बेटे), बकावना, वाजिद, रफीक, हबीब, नौशाद, बंटी, प्रेम, शिवम हैं. बता दें, पूर्वोत्तर दिल्ली के भजनपुरा इलाके में बुधवार दो लोगों द्वारा की गई गोलीबारी में दो लोग घायल हो गए हैं. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि घटना में विशाल और गौरव नाम के दो लोगों को गोली लगी है. वहीं, जांच में संदिग्धों में से एक की पहचान मनीष डेढा के रूप में हुई है और ऐसा लगता है कि विशाल के साथ उसकी कुछ निजी दुश्मनी थी. उन्होंने बताया कि गौरव, जिसकी पत्नी पुलिस में है, उस समय घायल हो गया जब वह उसके साथ घर जा रहा था. पुलिस ने कहा कि गौरव को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है, जबकि विशाल अभी भी भर्ती है.

पुलिस ने कहा कि ऐसा लगता है कि डेढा और विशाल के बीच दुश्मनी किसी प्रेम प्रसंग को लेकर थी. पुलिस ने बताया कि पहले विशाल ने भी डेढा पर गोली चलाई थी और उस पर हत्या के प्रयास का आरोप है. पुलिस ने बताया कि डेढा पहले भी दो आपराधिक मामलों में शामिल रहा है.

Stone pelting again between two groups in Delhi, heavy tension, 3 arrested, 37 people in custody

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *