Type to search

जम्मू-कश्मीर में नहीं थम रहा टारगेट किलिंग, आतंकियों ने कश्मीरी पंडित की गोली मारकर की हत्या

देश

जम्मू-कश्मीर में नहीं थम रहा टारगेट किलिंग, आतंकियों ने कश्मीरी पंडित की गोली मारकर की हत्या

Share

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने एक बार फिर टारगेट किलिंग की वारदात को अंजाम दिया है. इस बार उन्होंने बाहरी मजदूर की जगह कश्मीरी पंडित को निशाना बनाया है. आतंकियों ने कश्मीर जोन के शोपियां जिले में एक कश्मीरी पंडित को गोली मारकर जख्मी कर दिया. इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. हालांकि अबतक किसी आतंकी संगठन ने इसकी जिम्मेदारी नहीं ली है, इसलिए पुलिस को भी इसके बारे में जानकारी नहीं है कि किस संगठन ने टारगेट किलिंग को अंजाम दिया. जम्मू कश्मीर पुलिस ने बताया कि आतंकवादियों ने एक अल्पसंख्यक नागरिक (कश्मीरी पंडित) पूरन कृष्ण भट को गोली मार दी.

आतंकियों ने उस समय वारदात को अंजाम दिया जब वह शोपियां के चौधरी गुंड में बाग लगाने जा रहे थे. उन्हें तुरंत इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया. पुलिस के मुताबिक, शोपियां के उस पूरे इलाके को घेर लिया है और सर्च ऑपरेशन जारी है. शोपियां में कश्मीरी पंडित की टारगेट किलिंग पर बीजेपी प्रदेश अध्य्क्ष रवींद्र रैना ने कहा कि बीते एक महीने में आतंकियों के सफाए के लिए सुरक्षाबल और पुलिस ऑपरेशन ऑल आउट चला रही है. आतंकी इससे बौखला गए हैं, इसीलिए वो नौजवानों पर हमला कर रहे हैं. लेकिन वो याद रखें कि युवाओं और स्थानीय लोगों पर हमला करने वाले आतंकियों को बख्शा नहीं जाएगा.

शोपियां में हुई कश्मीरी पंडित की टारगेट किलिंग को लेकर जम्मू में विरोध प्रदर्शन किया गया. जम्मू में प्रवासी कश्मीरी पंडित कर्मचारियों ने पूरन कृष्ण भट की हत्या के विरोध में विरोध मार्च भी निकाला. जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने ट्वीट कर कहा कि शोपियां में पूरन कृष्ण भट्ट पर आतंकियों का हमला कायराना हरकत है. पीड़ित परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं. मैं लोगों को विश्वास दिलाता हूं कि अपराधियों और आतंकियों को सहायता और उकसाने वालों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

Target killing is not stopping in Jammu and Kashmir, terrorists shot and killed Kashmiri Pandit

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *