Type to search

LAC पर टेंशन! लद्दाख गतिरोध पर भारत ने कही बड़ी बात

दुनिया देश

LAC पर टेंशन! लद्दाख गतिरोध पर भारत ने कही बड़ी बात

Share

भारत ने लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर जारी गतिरोध के लिए चीन द्वारा बड़ी संख्या में सैनिकों और हथियारों की तैनाती को जिम्मेदार ठहराया है. विदेश मंत्रालय ने कहा कि LAC पर चीन के उकसावे वाले बर्ताव और यथास्थिति को बदलने की एकतरफा कोशिश का भारत ने भी मुंहतोड़ जवाब दिया है. भारतीय पक्ष ने सुरक्षा हितों की रक्षा करने के लिए जवाबी तैनाती की है.

मंत्रालय ने उम्मीद जताई है कि चीनी पक्ष लद्दाख क्षेत्र में व्याप्त मुद्दों का जल्द समाधान खोजने की दिशा में काम करेगा. पूर्वी लद्दाख में जारी गतिरोध के लिए चीन ने भारत को जिम्मेदार ठहराने की कोशिश की है. जिसके बाद भारत ने चीन को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि चीनी सेना के उकसावे वाले बर्ताव और वास्तविक नियंत्रण रेखा पर यथास्थिति को बदलने की एकतरफा कोशिश ने शांति को गंभीर रूप से भंग कर दिया है.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि चीन ने सीमावर्ती इलाकों में बड़ी संख्या में सैनिकों और हथियारों की तैनाती की है और चीन की कार्रवाई की प्रतिक्रिया में भारतीय सशस्त्र बलों को उचित जवाबी तैनाती करनी पड़ी है. उन्होंने कहा कि चीन के आरोपों में “कोई आधार नहीं है” और भारत उम्मीद करता कि चीनी पक्ष द्विपक्षीय समझौतों और प्रोटोकॉल का पूरी तरह से पालन करते हुए शेष मुद्दों को जल्दी हल करने की दिशा में काम करेगा. चीन ने हाल में आरोप लगाया है कि दोनों देशों के बीच तनाव का “मूल कारण” नई दिल्ली द्वारा “आगे बढ़ने की नीति” का अनुसरण करना और चीनी क्षेत्र पर “अवैध रूप से” अतिक्रमण करना है. इसके जवाब में भारत की प्रतिक्रिया आई है.

चीन के आरोपों पर पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए बागची ने कहा कि भारत कुछ दिन पहले ही इस मामले पर अपनी स्थिति स्पष्ट कर चुका है और ऐसे बयानों को खारिज कर चुका है जिनका कोई आधार नहीं है. उन्होंने कहा, ‘चीनी पक्ष ने बड़ी संख्या में सैनिकों को तैनात किया हुआ है. चीनी का उकसावे वाला बर्ताव है और हमारे सभी द्विपक्षीय समझौतों का उल्लंघन करते हुए यथास्थिति को बदलने का एकतरफा प्रयास है. लिहाजा पूर्वी लद्दाख में एलएसी पर शांति गंभीर रुप से भंग हुई है.’

Tension on LAC! India said big thing on Ladakh standoff

Share This :
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *