Type to search

पंजाब में पराली जलाने के मामले 17000 के पार, CM मान के जिले में सबसे अधिक केस

देश

पंजाब में पराली जलाने के मामले 17000 के पार, CM मान के जिले में सबसे अधिक केस

Share

पंजाब के कारण दिल्ली में प्रदूषण (Delhi Air Pollution) बढ़ने के आरोपों के बीच राज्य में पराली जलाने (Parali Burning) की घटनाओं का आंकड़ा 17 हजार के पार हो गया है. राज्य में बीते 1 नवंबर को 1,842 खेतों में आग लगाई गई, जिससे पराली जलाने के मामलों की संख्या 17,846 हो गई है, जबकि 2021 में इसी दिन 14,920 पराली जलाने के मामले सामने आए थे. आग लगाने की घटनाओं में मुख्यमंत्री भगवंत मान का जिला संगरूर सबसे ऊपर है. लगातार पराली जलाने के मामलों से राज्य की हवा की गुणवत्ता भी खराब हुई है. बीते दिन लुधियाना में एक्यूआई 299 था, उसके बाद पटियाला (240) और अमृतसर (194), जबकि खन्ना और जालंधर में 173 का एक्यूआई दर्ज किया गया था.

संगरूर में बीते मंगलवार को 345 खेत में आग लगने के मामले सामने आए हैं. मुक्तसर जिले में 31 अक्टूबर तक पराली जलाने के 289 मामले सामने आ चुके हैं, लेकिन कोई चालान नहीं किया गया है. मुख्य कृषि अधिकारी गुरप्रीत सिंह ने कहा कि गांवों में दौरा करके विभाग मामलों का सत्यापन कर रहा है. हालांकि उन्होंने कहा कि क्षेत्र में पिछले वर्षों की तुलना में हवा की गुणवत्ता बेहतर थी. 1 नवंबर, 2020 को पंजाब में 3,560 खेत में आग लगी, जबकि 2021 में इसी तारीख को 1,796 आग लगी थी.

राज्य के फिरोजपुर जिले में 229 और पटियाला जिले में 196 पराली जलाने की घटनाएं सामने आई हैं. 2020 में इसी तारीख तक कुल कृषि आग की घटनाएं 33,175 थीं और 2021 में इनकी गिनती 14,920 थीं. पंजाब प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (पीपीसीबी) के अधिकारियों ने कहा है कि किसान यूनियनों ने गांवों में आग की जांच के लिए सरकार के किसी भी कदम का विरोध किया है, जिसके चलते अधिकारियों को स्थानीय पुलिस से भी पर्याप्त सुरक्षा नहीं मिल पा रही है.

उधर, दिल्ली में फैल रह प्रदूषण को लेकर कृषि मंत्री कुलदीप धालीवाल ने हरियाणा को जिम्मेदार ठहराया है. धालीवाल ने सीएनएन-न्यूज 18 को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि पंजाब को दिल्ली के प्रदूषण के लिए दोषी नहीं ठहराया जा सकता है. उन्होंने कहा कि दिल्ली में फैल रहे प्रदूषण का कारण पंजाब में जल रही पराली नहीं हो सकती है. हरियाणा के रोहतक, पानीपत और सोनीपत दिल्ली के प्रदूषण में योगदान दे रहे हैं.

The cases of stubble burning in Punjab are over 17000, highest in CM Mann district

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *