Type to search

12 महीने में देश को मिले ये 6 नए मुख्यमंत्री, जानें किसे मिली, किस की गई

देश राजनीति

12 महीने में देश को मिले ये 6 नए मुख्यमंत्री, जानें किसे मिली, किस की गई

Share

विधानसभा चुनाव से कुछ महीने पहले भूपेंद्र भाई पटेल ने गुजरात के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है. चुनाव से पहले पूर्व मुख्यमंत्री विजय रुपाणी को पद से हटाकर भूपेंद्र पटेल को मुख्यमंत्री बनाया गया है. वैसे चुनाव से पहले या बीच कार्यकाल में मुख्यमंत्री बनने का सिलसिला एक साल से जारी है और पिछले एक साल में देश के 6 राज्यों को नए मुख्यमंत्री मिले हैं. इनमें कुछ सीएम तो बीच कार्यकाल में ही नियुक्त किए गए हैं.

पुष्कार सिंह धामी (बीजेपी)- उत्तराखंड में तो काफी स्पीड से सीएम बदले जा रहे हैं. हाल ही में 4 जुलाई 2021 को पुष्कर सिंह धामी ने सीएम पद की शपथ ली थी. इनसे पहले चार महीने तक तीरथ सिंह रावत के पास कमान थी और उससे पहले त्रिवेंद्र सिंह रावत प्रदेश के मुख्यमंत्री थे.

हेमंत बिस्वा सरमा (बीजेपी)- हेमंत बिस्वा सरमा ने 10 मई 2021 को असम के मुख्यमंत्री के रुप में शपथ ली थी. उन्हें पद संभाले अभी 126 दिन ही हुए हैं. इससे पहले असम के मुख्यमंत्री का कार्यभार सर्बानंद सोनोवाल के पास था और लंबे मंथन के बाद उनका नाम फाइनल किया गया था. हेमंत सरमा पूर्व कांग्रेसी हैं जो 2015 में भाजपा में शामिल हुए थे.

बासवराज बोम्मई (बीजेपी)- बासवराज बोम्मई ने 47 दिन पहले ही 28 जुलाई को ही पद की शपथ ली है. जनता दल सेक्युलर छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए बोम्मई पूर्व मुख्यमंत्री एसआर बोम्मई के बेटे हैं. अपनी साफ़-सुथरी और ग़ैर-विवादित छवि के लिए जाने जाने वाले बोम्मई को येदियुरप्पा का करीबी सहयोगी माना जाता है. इससे पहले बीएस येदियुरप्पा प्रदेश के सीएम थे और उनके इस्तीफे के बाद उन्हें मौका दिया गया है.

एन रंगास्वामी (एआईएनआरसी)- रंगास्वामी ने 129 दिन पहले 7 मई 2021 को पुडुचेरी के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है. वे चौथी बार प्रदेश के मुख्यमंत्री बने हैं. बता दें कि प्रदेश में एआईएनआरसी और बीजेपी के गठबंधन की सरकार है. पुडुचेरी विधानसभा अध्यक्ष की ओर से नारायणसामी सरकार के बहुमत खोने का ऐलान किए जाने के बाद उन्हें सीएम बनने का मौका मिला है.

एम स्टालिन (डीएमके)- तमिलनाडु विधानसभा चुनाव में डीएमके को मिली भारी जीत के बाद पार्टी अध्यक्ष मुथुवेल करुणानिधि स्टालिन ने पद की शपथ ली थी. स्टालिन ऐसे मुख्यममंत्री हैं, जिन्होंने चुनाव जीतकर यह सीट हासिल की है.

भूपेंद्र भाई पटेल (बीजेपी)- भूपेंद्र पटेल ने आज (सोमवार) को सीएम पद की शपथ ली है. उनका कार्यकाल 13 सिंतबर 2021 यानी आज से शुरू हुआ है. उन्हें चुनाव से पहले विजय रुपाणी के स्थान पर कारोबार सौंपा गया है. वे प्रदेश के 17वें मुख्यमंत्री बने हैं. एक राजनीतिक विश्लेषक के अनुसार राजनीतिक हलकों में मुख्यमंत्री के लिए जिन नामों की अटकलें चल रही थी, उनमें कहीं भी एक बार के विधायक भूपेंद्र पटेल का नाम नहीं था. पटेल को मृदुभाषी कार्यकर्ता के रूप में जाना जाता है, जिन्होंने नगरपालिका स्तर के नेता से लेकर प्रदेश की राजनीति में शीर्ष पद तक का सफर तय किया है.

The country got these 6 new chief ministers in 12 months, know who got it, what was done

Share This :

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Join #Khabar WhatsApp Group.