Type to search

कल से खुल रहे है थियेटर्स, जानिए क्या हैं नए दिशा-निर्देश

मनोरंजन

कल से खुल रहे है थियेटर्स, जानिए क्या हैं नए दिशा-निर्देश

Share
Theaters

कोरोना महामारी की वजह से सिनेमाघर पिछले 6 महीने से बंद है। इस बीच कई महीने तो फिल्म की शूटिंग तक नहीं हो पायी थी। हालांकि अब देश अनलॉक होने लगा है। कल यानि की 15 अक्टूबर से सिनेमाघर खुल रहे है। इसके साथ ही सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की ओर से इसको लेकर एक अहम गाइडलाइन भी जारी की गई है। थियेटर्स में इस साल रिलीज हो चुकी कई मूवीज को री-रिलीज करने का फैसला लिया गया है।

इस हफ्ते री-रिलीज होंगी ये 6 बड़ी फिल्में –
ट्रेड एनालिस्ट तरण आदर्श ने ट्वीट बताया है कि 6 हिंदी फिल्में इस हफ्ते री-रिलीज के लिए अनाउंस की गई हैं। इनमें तानाजी, वॉर, शुभ मंगल ज्यादा सावधान, मलंग, थप्पड़ और केदारनाथ शामिल हैं। आने वाले दिनों में कई और फिल्में शेड्यूल की जाएंगी।

इन दिनों सुशांत सिंह राजपूत का केस चर्चा में बना हुआ है। इसी साल 14 जून को सुशांत ने खुदकुशी की. ऐसे में फैंस को ट्रीट देने के लिए सुशांत की मूवी केदारनाथ को फिर से बड़े पर्दे पर री-रिलीज किया जा रहा है। सिनेमाहॉल खुलने के बाद अब कई बड़ी फिल्में पाइपलाइन में हैं। इनमें 83 और सूर्यवंशम बड़ी रिलीज हैं। सूर्यवंशी दिवाली पर और 83 क्रिसमस पर रिलीज हो रही है।

सिनेमाघरों को लेकर केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने जारी की नए दिशा-निर्देश –

  • केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने नए दिशा-निर्देश जारी कर कंटनेमेंट जोने से बाहर और गतिविधियों को छूट दी है, जिसमें 15 अक्टूबर से सिनेमाघरों, नाटकघरों और बड़े मल्टीप्लेक्स को खोलने की अनुमति भी शामिल है।
  • इनमें अधिकतम 50 प्रतिशत सीटें ही भरी जा सकेंगी। सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने नई मानक संचालन प्रक्रिया जारी की।
  • फेस मास्क के बिना नहीं होगी एंट्र, मूवी के दौरान भी लगाए रखना होगा फेस मास्क।
  • सोशल डिस्टेंसिंग का करना होगा पालन।
  • एक सीट छोड़कर होगी बैठने की व्यवस्था।
  • हाथ धोने और सैनिटाइज की व्यवस्था रखनी होगी।
  • सभी को आरोग्य सेतु एप उपयोग करने की दी जाएगी सलाह।
  • एक सिनेमा हॉल में दो शो के बीच इतनी अंतर दिया जाए कि पूरे हॉल का सैनेटाइजेशन हो सके।
  • सिनेमा हॉल में वेंटीलेशन और एसी तापमान का भी पूऱा ध्यान रखना होगा।
  • थियेटर में AC टेंपरेचर 24 से 30 डिग्री सेल्सियस के बीच होना चाहिए।
  • खाली सीटों को मार्क किया जाएगा।
  • जिन लोगों में लक्षण नहीं, केवल उन्हीं को अंदर जाने की इजाजत।
  • टिकट के लिए पर्याप्ट काउंटर बनाएं जाएं।
  • भीड़ से बचने के लिए एडवांस बुकिंग की जाए।
  • थियेटर में केवल पैक्ड फूड की ही अनुमति होगी।
  • हॉल के अंदर खाना की डिलीवर नहीं होगी।
Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *