Type to search

Delhi में जलभराव की समस्या हल करने के लिए DJB ने DDA से मांगी जमीन, बनाएंगे 37 सीवरेज शोधन संयंत्र

देश

Delhi में जलभराव की समस्या हल करने के लिए DJB ने DDA से मांगी जमीन, बनाएंगे 37 सीवरेज शोधन संयंत्र

Share

दिल्ली में जलभराव की समस्या हल करने के लिए दिल्ली सरकार एक्शन मूड में नजर आ रही है। दरअसल जल बोर्ड के उपाध्यक्ष राघव चड्ढा ने दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) के उपाध्यक्ष अनुराग जैन से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने डीडीए से दिल्ली में 37 जगहों पर विकेंद्रीकृत सीवेज शोधन संयंत्रों (डीएसटीपी) व सीवेज पंपिंग स्टेशनों के निर्माण के लिए जमीन उपलब्ध कराने की मांग की।

जानकारी के मुताबिक, इस मुलाकात के दौरान उन्होंने डीडीए के उपाध्यक्ष को मांगों से संबंधित एक पत्र भी सौंपा। इसके बाद राघव चड्ढा ने कहा कि सीवेज का बेहतर प्रबंधन डीएसटीपी के निर्माण से ही संभव है। इसलिए डीडीए को बिना किसी देरी के जल्द जमीन आवंटित करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जल बोर्ड वर्तमान समय में जमीन उपलब्ध नहीं होने के कारण डीएसटीपी और सीवेज पंपिंग स्टेशन का निर्माण नहीं करा पा रहा है। जिन इलाकों में सीवरेज की सही व्यवस्था नहीं है, वहां जल्द सीवरेज नेटवर्क के विस्तार व डीएसटीपी के निर्माण की जरूरत है।

आगे उन्होंने कहा कि दिल्ली की आबादी बढ़ने के साथ-साथ सीवेज में भी वृद्धि हुई है। इसका प्राथमिकता के आधार पर शोधन करने की जरूरत है। इसके मद्देनजर जल बोर्ड ने डीएसटीपी बनाने की योजना तैयार की है। इसके लिए जल बोर्ड को जमीन की जरूरत है। जमीन आवंटन के लिए डीडीए के साथ पिछले एक साल में कई बैठकें हो चुकी हैं।

उन्होंने आगे कहा कि इस विषय में कई बार पत्राचार भी किया गया था। फिर भी अभी तक डीडीए ने जमीन आवंटन नहीं किया है। उन्होंने पत्र में लिखा है कि जमीन चिह्नित करने के लिए डीडीए व राजस्व विभाग के अधिकारियों की टीम संयुक्त रूप से दौरा भी कर चुकी है। इस दौरान डीडीए द्वारा चिह्नित 37 स्थानों पर जल्द जमीन आवंटित करने की मांग की है। डीएसटीपी के निर्माण से शहरीकृत गांवों में भी सीवेज प्रबंधन बेहतर होगा।

Share This :
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Join #Khabar WhatsApp Group.