Type to search

7 दिन में 21 चारधाम यात्रियों की हार्ट अटैक से मौत

जरुर पढ़ें देश

7 दिन में 21 चारधाम यात्रियों की हार्ट अटैक से मौत

Share

इस वर्ष चारधाम (Chardham) यात्रा कर रहे श्रद्धालुओं की बड़ी संख्या में हार्ट अटैक से मौत हो रही है. रिपोर्ट्स के मुताबिक इस वर्ष अब तक 21 श्रद्धालुओं की हार्ट अटैक (Heart Attack) से मौत हो चुकी है. चारधाम यात्रा के दौरान हो रही श्रद्धालुओं मौत के मामले का प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) ने संज्ञान लिया है. प्रधानमंत्री कार्यालय ने चारधाम यात्रा के दौरान में मंगलवार देर शाम तक हुई 21 मौतों के बारे में विवरण तलब किया है. गौरतलब है कि कोरोना महामारी की वजह से लगाए गए लॉकडाउन की वजह दो साल बाद चारधाम यात्रा शुरू हुई है. लिहाजा, चारधाम यात्रा में इस वर्ष श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ रही है, जिसमें हर आयु वर्ग के लोग शामिल हैं.

यात्रा के पहले सात दिनों में ही 21 व्यक्तियों की मौत हो चुकी है. रिपोर्ट्स के मुताबिक इनमें से सभी की मृत्यु हृदयाघात से होनी बताई गई है. इनमें 14 मौत गंगोत्री और यमुनोत्री धाम जाने वाले यात्रियों की हुई है. इससे यात्रा मार्ग पर स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर सवाल भी उठ रहे हैं.

पीएमओ से रिपोर्ट लब करने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने अपना जवाब मंगलवार देर शाम प्रधानमंत्री कार्यालय को भेज दिया. इसमें मौत के कारणों के साथ ही चारधाम यात्रा मार्गों पर स्वास्थ्य सेवाओं के संबंध में सरकार की ओर से की गई व्यवस्था का ब्योरा भी शामिल है. स्वास्थ्य विभाग ने अपने जवाब में यह भी बताया है कि चारधाम आने वाले यात्रियों के लिए हेल्थ एडवाइजरी जारी कर दी गई है.

दरअसल, लगातार बढ़ रही मौतों के आंकड़ों पर मंगलवार को प्रधानमंत्री कार्यालय ने प्रदेश सरकार को पत्र भेजकर तुरंत रिपोर्ट देने के निर्देश दिए. स्वास्थ्य सचिव राधिका झा ने प्रधानमंत्री कार्यालय को रिपोर्ट भेजी है. सूत्रों के अनुसार इसमें स्वास्थ्य विभाग ने यात्रियों की मृत्यु का कारण यात्रा मार्ग में ऑक्सीजन की कमी को बताया है. साथ ही यात्रा मार्ग पर सरकार की ओर से उपलब्ध कराई जा रही स्वास्थ्य सेवाओं की जानकारी भी दी गई है. बताया गया है कि यात्रियों की सुविधा के लिए एडवांस रिस्पांस टीम समेत जगह-जगह फर्स्ट मेडिकल रिस्पांस टीम गठित की गई है और उत्तरकाशी में कार्डियक एंबुलेंस भी तैनात की गई है.

21 Chardham pilgrims die of heart attack in 7 days

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *